Category: पुस्तक व समालोचना

kamlesh bhartiya

Kamlesh Bhartiya यह आम रास्ता नहीं है

Kamlesh Bhartiya का कथा संग्रह: यह आम रास्ता नहीं है : इंडिया नेट्बुक्स ‘इस संग्रह की कथाएं स्वयं एक पात्र

Continue reading
Bulaki Sharma

Bulaki Sharma नवीनतम व्यंग्य संग्रह ‘पांचवां कबीर

Bulaki Sharma इस व्यंग्य संग्रह का कथानक समकालीन समाज, राजनीति और साहित्य है।बुलाकी जी की एक विशेषता जिसका जिक्र हम

Continue reading

Vijay Vishal विजय विशाल का काव्य संग्रह – चीटियाँ शोर नहीं करतीं

Vijay Vishal  – एक पगडंडी का सड़क हो जाना/महज रास्ते का चौड़ा होना भर नहीं है कविता पर लिखते हुए

Continue reading
Media Vimarsh Jan-Mar 21

Media Vimarsh Jan-Mar 21 – मीडिया और मूल्यबोध विशेषांक

Media Vimarsh Jan-Mar 21 – भरोसे का नाम ही पत्रकारिता है -मीडिया विमर्श, मीडिया और मूल्यबोध विशेषांक’ मीडिया विमर्श’ जनसंचार

Continue reading
पुस्तक संस्कृति

पुस्तक संस्कृति – विश्व पुस्तक मेला 2021, नई दिल्ली(आभासी संस्करण)

पुस्तक संस्कृति पर परिचर्चा : डॉ. योगेन्द्र नाथ शर्मा ‘अरुण’ , डॉ. दिविक रमेश, डॉ. प्रेम जनमेजय और डॉ. इन्द्र

Continue reading
मरू नवकिरण

मरू नवकिरण अक्टूबर-दिसंबर 2020

मरू नवकिरण त्रैमासिक पत्रिका का अक्टूबर-दिसंबर 2020 (साहित्य कला और संस्कृति परिशिष्ट) अंक मरू नवकिरण त्रैमासिक पत्रिका का अक्टूबर-दिसंबर 2020

Continue reading
Geetashree

Geetashree की ‘लिट्टी चोखा’ स्त्रियों के कथ-अकथ संसार की गाथा है।

Geetashree गीताश्री की पुस्तक ‘लिट्टी-चोखा और अन्य कहानियाँ’ में लोक, कला और स्त्री तीनों का स्पंदन है। मधुबनी मूल रूप

Continue reading